KARMCHARI SANGH

KARMCHARI SANGH

NREGA KARMCHARI SANGH UTTAR PRADESH
Mr. Kamlesh Kumar Gupta - Pradesh Prabhari (Gram Rojgar Sevak Sangh U.P.)
Mr. Devendra Pratap Shahi - Pradesh Adhyaksha (Gram Rojgar Sevak Sangh U.P.)
Mr. Bhupesh Kumar Singh - Pradesh Mahamantri (Gram Rojgar Sevak Sangh U.P.)
Mr. Vishnu Pratap Singh - Pradesh Sangthan Mantri (Gram Rojgar Sevak Sangh U.P.)
Mr. Vinay Dwivedi- Pradesh Adhyaksha ( NREGA Karmik Sangh U.P.)
हमारा सन्देश

प्रिय साथियों व मित्रगण
नरेगा उत्तर प्रदेश कर्मचारी संघ आप का हार्दिक स्वागत व अभिनन्दन करता है


हम आप के आभारी है
यु० पी० नरेगा कर्मचारी संघ
हम सब एक है

हम सब एक है

उत्तर प्रदेश मनरेगा कर्मचारी संघ - जिंदाबाद- जिंदाबाद

चर्चा करने हेतु यहाँ क्लिक करे

Send anonymously or enter name
Please retype the anti-spam code "6376"
Annya Rajyo Jaise Maharastra ko bhi Side main Add Kiya Jaye Maharastra Mai bhi progress hai
ANNYA RAJYO JAISEE MAHARASHTRA NREGA WEBSITE KAB CHALU HOGI JALDI SURU KARE
ANNYA RAJYO JAISEE MAHARASHTRA NREGA WEBSITE KAB CHALU HOGI
from Maharashtra
ham logo ko permanent karna chahiy
sir :
kuch dino pahle high cort ne up gov. ko faisla diya tha ke rojgar sewkon ko parmanent karo ya kahin aur shift karo .is vishay main up gov. ko 4 mahine ka samay diya tha ye sahi tha ya galat ........................please answer me this email id .... hs956883@gmail.com
The information is really interesting.

Here is my web blog ... Uberstrike Hack Tool 2013
You've go&X74;ten among the beѕt web pag&X65;s.


Here is &X6D;у &X77;eb-site :: dual ban&X64; ωirе&X6C;ess gіgabit rοuter - click through the up coming web site -
Fantastiс web site you've in heгe.
Fantaѕtic web sitе yοu'ѵe іn here.
12.01.17 18:29
upmnrega

क्या हम नियमित होने योग्य है ?

हाँ (1647 | 89%)
नहीं (86 | 5%)
इस फार्म को सावधानी पूर्वक भरे तथा Submit करने के बाद ५-१० मिनट इंतज़ार करे जब तक की कन्फर्मेशन मैसेज न मिल जाये !
दोस्तों!
क्या आप ने मछली को तैरते हुए देखा है ?
शायद आप का जवाब हो, हाँ
पर हम यहाँ आप को अस्वस्त कर देना चाहते है की आप नदी,तालाब ,पोखरे
या अन्य किसी स्थल पर तैरते हुए मछली को देखे होंगे जो पूरी तरह स्वस्थ
और स्वतंत्र होती है,पर हमारी स्थिति इसके विपरीत चुल्लू भर पानी में तड़पने
वाली मछली के सामान है और ऊपर से यह चिलचिलाती धुप और चुल्लू भर
पानी को भी सुखाता ( अवशोषित करता ) हुआ सूर्य !
हम बात कर रहे है अपनी जिसे समुन्द्र नदी और तालाब तो नहीं मिला है
किन्तु भूख और पेट तो हमारे भी उन्ही मछलियों के सामान है, सच कहे तो आज
इस स्थिति में है की हमें विगत दिनों/महीनो से चुल्लू भर पानी भी नहीं मिल रहा है ,

" पर अब हम एक है और पुर्णतः संगठित है और हम इसी तरह मिल कर कार्य करते रहे तो वो दिन दूर नहीं जब नदी में तैरेंगे ही नहीं बल्कि समुन्द्र भी प्राप्त कर सकते है !"



MNREGA Karmchari sangh
Uttar Pradesh ( India )
 चल रहे कार्य :

चल रहे कार्य :

विभिन्न स्थलों पर चल रहे कार्यो की एक झलक
Name
Email
Comment
Or visit this link or this one